26.1 C
Delhi
Monday, August 8, 2022

“जाति के विनाश और समतामूलक समाज की स्थापना के लिए आगे आएं युवा” — आकाश आनंद

बाबा साहब की अमर कृति “जाति का विनाश” के 86वें प्रकाशन वर्ष पर बीएचयू के एनिबिसेन्ट सभागार में आयोजित विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसके मुख्य अतिथि बसपा के नेशनल को-ऑर्डिनेटर आकाश आनंद रहे।

आकाश आनंद कला संकाय बीएचयू के उस प्रांगण में भी पहुंचे जहां बाबा साहब डॉ. अम्बेडकर ने 25 नवंबर 1956 में छात्रों व शिक्षकों को संबोधित किया था।

15 मई, रविवार को बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर द्वारा लिखित “Annihilation of Caste जाति के समूल विनाश” के प्रकाशन दिवस पर काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में आयोजित संगोष्ठी में बहुजन समाज पार्टी के नेशनल कोर्डिनेटर आकाश आनंद ने काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (BHU) और महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के कर्मठ बहुजन शिक्षकों और छात्रों के साथ संवाद किया।

आकाश आनंद ने एनिहिलेशन ऑफ कास्ट पर अपनी बात रखते हुए कहा कि, भारतीय समाज में जाति व्यवस्था में हुए बदलावों को नए नजरिए से समझने की जरूरत है। उन्होंने जातिवाद के कारण उत्पीड़न और दमन के शिकार लोगों की मुक्ति और समतामूलक समाज की स्थापना हेतु युवाओं को बहुजन आंदोलन से जुड़ने तथा इसके निदान हेतु प्रोफेसर्स से देश के युवाओ का मार्गदर्शन करने का आह्वान किया।

गोष्ठी को प्रो. आर के गौतम, प्रो. बी राम, प्रो. जेबी कुम्हरैया, प्रो. एस के राव, प्रो. नवरत्न आदि ने भी संबोधित किया। सभी शिक्षकों ने आकाश आनंद के नेतृत्व में बहुजन आंदोलन को मजबूत करने का आहवान किया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता बीएचयू बहुजन इकाई के संरक्षक प्रोफसर महेश प्रसाद अहिरवार द्वारा की गई। अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में उन्होंने प्रो. अहिरवार ने कहा कि, ” युवाओं को हिंसक और तोड़फोड़ की प्रक्रिया से दूर रहते हुए लोकतांत्रिक ढंग से बहुजन समाज पार्टी के बैनर तले अपने अधिकारों की लड़ाई लड़नी होगी और बहुजन आंदोलन को शसक्त करना होगा।”

स्वागत भाषण में रवींद्र प्रकाश भारतीय ने अपने उद्बोधन में कहा कि, “भारत की बदलती हुई सामाजिक आर्थिक दशाओं में माननीय आकाश आनंद जी ओजस्वी व प्रभावशाली नेतृत्व शोषित वंचित समाज के मुक्ति के सुदृढ़ और सृजनात्मक मार्ग प्रशस्त होंगे। मा. आकाश आनंद जी के नेतृत्व से युवाओं में असीम प्रेरणा का संचार हुआ है जो उनसे जुड़ने के लिए प्रतिबद्ध हैं। आकाश जी युवाओं की आकांक्षा, कर्मठता और प्रतिबद्धता के प्रतीक हैं।”

संचालन एम्स बीएचयू के प्रो. बृजेश अस्थावल ने किया तथा आभार ज्ञापन डॉ. रविन्द्र गौतम (बीएचयू बहुजन अध्यक्ष) ने किया। उक्त अवसर पर बीएचयू, महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ, बसन्त कन्या महाविद्यालय, विमेन कालेज राजघाट आदि के शिक्षकों एवं छात्रों ने भाग लिया।

बीएचयू की विचार गोष्ठी में समापन के बाद बसपा के राष्ट्रीय कोऑर्डिनेटर आकाश आनंद ने संत रविदास मंदिर में जाकर मत्था टेका और पूजा अर्चना की, और मंदिर के प्रबंधक एवं संत समाज द्वारा उन्हें आशीर्वाद प्रदान किया गया।

The Mooknayakhttps://themooknayak.in
The Mooknayak is dedicated to Marginalised and unprivileged people of India. It works on the principle of Dr. Ambedkar and Constitution.

Related Articles

मध्यप्रदेशः पंच-सरपंच महिलाओं के अधिकार पर पति-रिश्तेदारों का ‘डाका’, कैसे सशक्त होंगी महिलाएं!

सरपंच निर्वाचित महिला के पति ने ली शपथ, दलित सरपंच ने सामान्य वर्ग के युवक को बनाया सरपंच प्रतिनिधि.

राजस्थान: 30 घंटे पेड़ से लटका रहा दलित संत का शव, भाजपा विधायक सहित 3 पर केस दर्ज

साधु ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में भाजपा विधायक पर लगाए गंभीर आरोप जालोर। राजस्थान के जालौर जिले में...

राजस्थानः अल्प मानदेय में मदरसों के पैरा टीचर्स कर रहे काम, कैसे हो परिवार का पालन-पोषण!

रिपोर्ट- अब्दुल माहिर बोर्ड से पंजीकृत मदरसों के पैरा टीचर्स बेहाल, शिक्षक कर रहे आर्थिक तंगी का सामना।
- Advertisement -

Latest Articles

मध्यप्रदेशः पंच-सरपंच महिलाओं के अधिकार पर पति-रिश्तेदारों का ‘डाका’, कैसे सशक्त होंगी महिलाएं!

सरपंच निर्वाचित महिला के पति ने ली शपथ, दलित सरपंच ने सामान्य वर्ग के युवक को बनाया सरपंच प्रतिनिधि.

राजस्थान: 30 घंटे पेड़ से लटका रहा दलित संत का शव, भाजपा विधायक सहित 3 पर केस दर्ज

साधु ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में भाजपा विधायक पर लगाए गंभीर आरोप जालोर। राजस्थान के जालौर जिले में...

राजस्थानः अल्प मानदेय में मदरसों के पैरा टीचर्स कर रहे काम, कैसे हो परिवार का पालन-पोषण!

रिपोर्ट- अब्दुल माहिर बोर्ड से पंजीकृत मदरसों के पैरा टीचर्स बेहाल, शिक्षक कर रहे आर्थिक तंगी का सामना।

मध्यप्रदेशः सागर की ‘बसंती’ पर मानव तस्करी का आरोप, नाबालिग से करवाती थी अवैध धंधा!

भोपाल। मध्य प्रदेश के सागर जिले में महिला द्वारा मानव तस्करी का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने दो गुमशुदा बच्चियां...

उत्तर प्रदेशः दरोगा ने दो दलित भाइयों को चौकी में बंद कर रात भर पीटा, जुर्म कबूल करने का बनाया दबाव!

मंझनपुर क्षेत्र से नाबालिग लड़की गायब हुई थी, पुलिस ने पूछताछ के लिए थाने बुलाया था। लखनऊ। यूपी...