26.1 C
Delhi
Monday, August 8, 2022

खंडवा में तीन बहनों ने किया सुसाइडः बड़ी बहन ने कहा मुझसे और बेटे से की बात, खुश थी बहनें, फिर ऐसा क्या हुआ!

मामले में पुलिस ने जताई आत्महत्या की आशंका, पूर्व सीएम कमलनाथ बोले जांच होनी चाहिए।

भोपाल। मध्यप्रदेश के खंडवा में आदिवासी परिवार की तीन सगी बहनें एक साथ एक ही रस्सी से पेड़ पर फंदे पर लटकी मिली। घटना मंगलवार देर रात 11 बजे की है। जानकारी मिलने पर पुलिस रात ढाई बजे घटनास्थल पर पहुंची। पुलिस के मुताबिक, आदिवासी बहनों ने आत्महत्या की है।

परिजन आत्महत्या के पीछे कोई वजह नहीं बता रहे हैं। बड़ी बहन के अनुसार घटना से कुछ देर पहले फोन पर तीनों बहनों ने उससे और उसके बेटे से बात की थी। तीनों उसे घर बुला रही थीं। लेकिन ऐसा क्या हुआ कि तीनों बहनों ने आत्महत्या कर ली।

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, मामला खंडवा के जावर थाना इलाके के भामगढ़ ग्राम में कोटापेट फाल्या का है। पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह के मुताबिक तीनों बहनें सोनू, सावित्री और ललिता के शव पेड़ पर फंदे से लटके मिले। उनके पिता जाम सिंह का निधन हो चुका है। परिवार में 5 बहनें और 3 भाई हैं। शुरुआती जांच में पुलिस और फॉरेंसिक टीम का मानना है कि तीनों ने सुसाइड किया है। वजह का पता लगाया जा रहा है।

कॉलेज में पढ़ती थी सोनू

बड़ी बहन चंपक के अनुसार, उसकी बहन सोनू खंडवा के एसएन कॉलेज में पढ़ाई कर रही थी। उससे छोटी बहन सावित्री की 3 महीने पहले ही शादी हुई थी। वहीं छोटी बहन ललिता ने पढ़ाई छोड़ दी थी। तीनों बहन घर आने की जिद कर रही थीं। जिरोती अमावस्या पर आकर मिलने का कहा तो सोनू कह रही थी कि 1 तारीख (अगस्त) से हॉस्टल खुल जाएगा। उसे खंडवा जाना है।

नई रस्सी से लगाई फांसी, पुलिस कर रही जांच

जावर थाने के टीआई शिवराम जाट ने द मूकनायक को बताया कि, “तीनों बहनों ने जिस रस्सी से फांसी लगाई, वो नई है। रस्सी बहनें ही लाईं या घर से ही ली, इसकी भी जांच की जाएगी।” नायब तहसीलदार माला राय का कहना है कि, पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही जांच आगे बढ़ेगी। कोई संदिग्ध परिस्थिति जैसी बात सामने नहीं आई है।

पूर्व सीएम कमलनाथ ने की जांच की मांग

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने खंडवा में तीन आदिवासी बहनों के शव मिलने के मामले की जांच की मांग की है। पीसीसी चीफ ने ट्वीट में लिखा, “मध्यप्रदेश के खंडवा जिले के जावर थाना क्षेत्र में तीन आदिवासी बहनों के शव पेड़ से लटके मिले है। यह घटना दिल को झकझोर देने वाली है। इस घटना के पीछे अलग-अलग कारण सामने आ रहे है। मैं सरकार से मांग करता हूं कि इसकी निष्पक्ष जांच हो और सच्चाई सामने आए। पीडि़त परिवार की आर्थिक स्थिति को देखते हुए, परिवार की हर संभव मदद भी की जाए।”

मध्यप्रदेश आजाद समाज पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुनील अस्तेय ने लिखा, “घटना दुखद और शर्मनाक है। सीएम शिवराज मामले की निष्पक्ष जांच कराएं और परिवार को आर्थिक मदद करें।”

Ankit Pachauri
Journalist, The Mooknayak

Related Articles

मध्यप्रदेशः पंच-सरपंच महिलाओं के अधिकार पर पति-रिश्तेदारों का ‘डाका’, कैसे सशक्त होंगी महिलाएं!

सरपंच निर्वाचित महिला के पति ने ली शपथ, दलित सरपंच ने सामान्य वर्ग के युवक को बनाया सरपंच प्रतिनिधि.

राजस्थान: 30 घंटे पेड़ से लटका रहा दलित संत का शव, भाजपा विधायक सहित 3 पर केस दर्ज

साधु ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में भाजपा विधायक पर लगाए गंभीर आरोप जालोर। राजस्थान के जालौर जिले में...

राजस्थानः अल्प मानदेय में मदरसों के पैरा टीचर्स कर रहे काम, कैसे हो परिवार का पालन-पोषण!

रिपोर्ट- अब्दुल माहिर बोर्ड से पंजीकृत मदरसों के पैरा टीचर्स बेहाल, शिक्षक कर रहे आर्थिक तंगी का सामना।
- Advertisement -

Latest Articles

मध्यप्रदेशः पंच-सरपंच महिलाओं के अधिकार पर पति-रिश्तेदारों का ‘डाका’, कैसे सशक्त होंगी महिलाएं!

सरपंच निर्वाचित महिला के पति ने ली शपथ, दलित सरपंच ने सामान्य वर्ग के युवक को बनाया सरपंच प्रतिनिधि.

राजस्थान: 30 घंटे पेड़ से लटका रहा दलित संत का शव, भाजपा विधायक सहित 3 पर केस दर्ज

साधु ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में भाजपा विधायक पर लगाए गंभीर आरोप जालोर। राजस्थान के जालौर जिले में...

राजस्थानः अल्प मानदेय में मदरसों के पैरा टीचर्स कर रहे काम, कैसे हो परिवार का पालन-पोषण!

रिपोर्ट- अब्दुल माहिर बोर्ड से पंजीकृत मदरसों के पैरा टीचर्स बेहाल, शिक्षक कर रहे आर्थिक तंगी का सामना।

मध्यप्रदेशः सागर की ‘बसंती’ पर मानव तस्करी का आरोप, नाबालिग से करवाती थी अवैध धंधा!

भोपाल। मध्य प्रदेश के सागर जिले में महिला द्वारा मानव तस्करी का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने दो गुमशुदा बच्चियां...

उत्तर प्रदेशः दरोगा ने दो दलित भाइयों को चौकी में बंद कर रात भर पीटा, जुर्म कबूल करने का बनाया दबाव!

मंझनपुर क्षेत्र से नाबालिग लड़की गायब हुई थी, पुलिस ने पूछताछ के लिए थाने बुलाया था। लखनऊ। यूपी...