27.1 C
Delhi
Sunday, August 7, 2022

SSCGD 2018: नियुक्ति की मांग को लेकर पैदल तिरंगा यात्रा कर रहे अभ्यर्थियों को पुलिस ने पांचवी बार किया गिरफ्तार

नई दिल्ली। महाराष्ट्र नागपुर से दिल्ली तक हजार किलोमीटर पैदल चलकर तिरंगा यात्रा निकालने वाले एसएससी जीडी 2018 (SSCGD 2018) के अभ्यर्थियों को पुलिस ने आज पांचवी बार गिरफ्तार किया है। छात्र SSCGD 2018 की भर्ती में हुई अनियमितताओं को दूर करने की मांग करते हुए बीते कई महीनों से पैदल मार्च कर रहे हैं।

खबर लिखे जाने तक छात्रों की स्थिति की कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। इससे पहले इन अभ्यर्थियों को मध्य प्रदेश के सागर में, यूपी के आगरा और मथुरा में और मध्य प्रदेश के पलवल में दो बार गिरफ्तार भी किया है। गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने हर बार अभ्यर्थियों को विभिन्न जिलों के बॉर्डर पर छोड़ दिया। लेकिन तिरंगा यात्रा लेकर दिल्ली जा रहे छात्रों का संघर्ष और भी बढ़ता जा रहा है।

1 अगस्त को हरियाणा के पलवल से गिरफ्तार किए गए अभ्यर्थियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर विभिन्न जिलों के बॉर्डर पर अलग-अलग टुकड़ी में छोड़ दिया था। आगरा से कुछ छात्र ट्रेन पकड़ कर दोबारा हरियाणा के फरीदाबाद से यात्रा शुरू करने जा रहे थे। इन छात्रों को पुलिस ने पुनः आज दोपहर 2:00 बजे दोबारा गिरफ्तार कर लिया।

SSCGD 2018 के अभ्यर्थी, फोटो साभार- Twitter
SSCGD 2018 के अभ्यर्थी, फोटो साभार- Twitter

लंबे समय से नियुक्ति के लिए अभ्यर्थी कर रहे संघर्ष

वर्ष 2018 में आई भर्ती SSCGD (अर्धसैनिक बलों) में नौकरी के लिए छात्र आज भी सड़क पर संघर्ष कर रहे हैं। यह वह छात्र हैं जिन्होंने परीक्षा पास की है, लेकिन अभी तक उनकी नियुक्ति नहीं की गई है। तब से यह अभ्यर्थी अपनी नियुक्ति की मांगों को लेकर सड़क पर आंदोलन के लिए उतरे हुए हैं। इस दौरान, अभ्यर्थियों ने आरोप लगाया है कि रास्तों में कई जगहों पर पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की, घर लौटने के लिए अभिभावकों पर दबाव बनाया गया, उन्हें वॉशरूम और खाने-पानी की चीजों से भी वंचित करके उन्हें भटकाने का प्रयास किया गया।

Satya Prakash Bharti
Satya Prakash Bharti, Journalist The Mooknayak

Related Articles

मध्यप्रदेशः पंच-सरपंच महिलाओं के अधिकार पर पति-रिश्तेदारों का ‘डाका’, कैसे सशक्त होंगी महिलाएं!

सरपंच निर्वाचित महिला के पति ने ली शपथ, दलित सरपंच ने सामान्य वर्ग के युवक को बनाया सरपंच प्रतिनिधि.

राजस्थान: 30 घंटे पेड़ से लटका रहा दलित संत का शव, भाजपा विधायक सहित 3 पर केस दर्ज

साधु ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में भाजपा विधायक पर लगाए गंभीर आरोप जालोर। राजस्थान के जालौर जिले में...

राजस्थानः अल्प मानदेय में मदरसों के पैरा टीचर्स कर रहे काम, कैसे हो परिवार का पालन-पोषण!

रिपोर्ट- अब्दुल माहिर बोर्ड से पंजीकृत मदरसों के पैरा टीचर्स बेहाल, शिक्षक कर रहे आर्थिक तंगी का सामना।
- Advertisement -

Latest Articles

मध्यप्रदेशः पंच-सरपंच महिलाओं के अधिकार पर पति-रिश्तेदारों का ‘डाका’, कैसे सशक्त होंगी महिलाएं!

सरपंच निर्वाचित महिला के पति ने ली शपथ, दलित सरपंच ने सामान्य वर्ग के युवक को बनाया सरपंच प्रतिनिधि.

राजस्थान: 30 घंटे पेड़ से लटका रहा दलित संत का शव, भाजपा विधायक सहित 3 पर केस दर्ज

साधु ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में भाजपा विधायक पर लगाए गंभीर आरोप जालोर। राजस्थान के जालौर जिले में...

राजस्थानः अल्प मानदेय में मदरसों के पैरा टीचर्स कर रहे काम, कैसे हो परिवार का पालन-पोषण!

रिपोर्ट- अब्दुल माहिर बोर्ड से पंजीकृत मदरसों के पैरा टीचर्स बेहाल, शिक्षक कर रहे आर्थिक तंगी का सामना।

मध्यप्रदेशः सागर की ‘बसंती’ पर मानव तस्करी का आरोप, नाबालिग से करवाती थी अवैध धंधा!

भोपाल। मध्य प्रदेश के सागर जिले में महिला द्वारा मानव तस्करी का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने दो गुमशुदा बच्चियां...

उत्तर प्रदेशः दरोगा ने दो दलित भाइयों को चौकी में बंद कर रात भर पीटा, जुर्म कबूल करने का बनाया दबाव!

मंझनपुर क्षेत्र से नाबालिग लड़की गायब हुई थी, पुलिस ने पूछताछ के लिए थाने बुलाया था। लखनऊ। यूपी...