23.1 C
Delhi
Friday, October 7, 2022

राजस्थान: शहीद कैप्टन अब्दुल हमीद को किया याद, कैंडल जलाकर दी गई श्रद्धांजलि

जयपुर। शहीद कैप्टन अब्दुल हमीद (Captain Abdul Hameed) के शहादत दिवस के अवसर पर “हमारा पैग़ाम भाईचारे के नाम” थीम पर वतन फाउंडेशन (Watan Foundation) के तत्वाधान में राजस्थान के सवाईमाधोपुर रेलवे स्टेशन सर्कुलेटिंग एरिया में शनिवार शाम फाउंडेशन के सदस्य एवं स्थानीय लोगों द्वारा कैंडल जलाकर श्रद्धांजलि दी गई।

फाउंडेशन प्रवक्ता मोइन खान ने द मूकनायक को बताया कि, शनिवार की शाम देशभक्ति गीतों और गगनभेदी नारों के साथ मरणोपरांत परमवीर चक्र प्राप्त क्वार्टर मास्टर हवलदार अब्दुल हमीद को कैंडल जलाकर श्रद्धांजलि दी गई।

उन्होंने कहा कि, कंपनी क्वार्टर मास्टर हवलदार शहीद अब्दुल हमीद (Shaheed Abdul Hameed) भारतीय सेना के वो वीर हैं, जो वीरता और साहस का परिचय देते हुए 1965 के भारत-पाक युद्ध (Indo Pak war) में कई पाकिस्तानी पेटन टैंकों को ध्वस्त कर दिया था।

इस अवसर पर फाउंडेशन के संस्थापक हुसैन आर्मी ने अब्दुल हमीद को याद करते हुए बताया कि, अब्दुल हमीद पूर्वी उत्तर प्रदेश के बहुत ही साधारण परिवार से आते थे लेकिन उन्होंने अपनी वीरता की असाधारण मिसाल कायम करते हुए देश को गौरवान्वित किया था। कहा जाता है कि, जब 1965 के युद्ध शुरू होने के आसार बन रहे थे तो वो अपने घर गए थे, लेकिन उन्हें छुट्टी के बीच से वापस ड्यूटी पर आने का आदेश मिला। उस दौरान उनकी पत्नी ने उन्हें खूब रोका, लेकिन वे रुके नहीं। रोकने की कोशिश के बाद हमीद ने मुस्कराते हुए कहा था- “देश के लिए उन्हें जाना ही होगा।”

शहीद कैप्टन अब्दुल हमीद के शहादत दिवस पर कैंडल जलाकर दी गई श्रद्धांजलि [फोटो- अब्दुल माहिर, द मूकनायक]
शहीद कैप्टन अब्दुल हमीद के शहादत दिवस पर कैंडल जलाकर दी गई श्रद्धांजलि [फोटो- अब्दुल माहिर, द मूकनायक]

प्रोफेसर राम लाल बेरवा ने बताया कि, टीम द्वारा विभिन्न जयंती तथा पुण्यतिथि के अवसर पर इसी प्रकार महापुरुषों को याद किया जाता रहेगा ताकि आम जन में महापुरुषों द्वारा किए गए कार्यों को जिंदा रखा जा सके एवं लोग उनकी जीवनी से प्रेरणा ले सकें।

इस अवसर पर फाउंडेशन के सदस्य इकबाल खान, मकसूद खान, अमीन खान, संजय सिसोदिया, घनश्याम बैरवा, शहजाद खान, पप्पू खान, मुन्ना खान, रशीद खान, आसिफ खान, रमेश खटीक, टैक्सी यूनियन अध्यक्ष सलीम खान, ओम प्रकाश, सोनू खान, जुगराज बेरवा, शाहरुख खान, अमन खान, सैफ खान, बिट्टू बेरवा सहित तमाम सदस्य मौजूद रहे।

Abdul Mahir
अब्दुल माहिर 2003 से लगातार राजस्थान पत्रिका में बतौर रिपोर्टर के रूप में काम कर चुके हैं। इसके अलावा पत्रिका टीवी में भी कार्य कर चुके हैं। मौजूदा समय में अब्दुल माहिर राजस्थान से द मूकनायक के लिए रिपोर्ट कर रहे हैं।

Related Articles

हरियाणा: फरीदाबाद स्थित निजी हॉस्पिटल के वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट में उतरे 4 दलित सफाईकर्मियों की जहरीली गैस से मौत

सेक्टर-16 स्थित क्यूआरजी हॉस्पिटल में हुआ यह दर्दनाक हादसा। नई दिल्ली। हरियाणा के फरीदाबाद के सेक्टर-16 स्थित क्यूआरजी...

खबर का असरः पत्नी की गोली मारकर हत्या का आरोपी युवक गिरफ्तार

बेटी के हत्यारे की दो महीने बाद गिरफ्तारी होने पर छलक पड़े पिता के आंसू, जाग उठी न्याय...

राजस्थान: जंगल व वन्यजीव बचेंगे तभी पर्यावरण का संरक्षण होगा

वन्यजीव सप्ताह के तहत पर्यावरण संरक्षण की अलख भावी पीढ़ी में जगाने के लिए सरकारी स्कूलों में विविध कार्यक्रम आयोजित
- Advertisement -

Latest Articles

हरियाणा: फरीदाबाद स्थित निजी हॉस्पिटल के वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट में उतरे 4 दलित सफाईकर्मियों की जहरीली गैस से मौत

सेक्टर-16 स्थित क्यूआरजी हॉस्पिटल में हुआ यह दर्दनाक हादसा। नई दिल्ली। हरियाणा के फरीदाबाद के सेक्टर-16 स्थित क्यूआरजी...

खबर का असरः पत्नी की गोली मारकर हत्या का आरोपी युवक गिरफ्तार

बेटी के हत्यारे की दो महीने बाद गिरफ्तारी होने पर छलक पड़े पिता के आंसू, जाग उठी न्याय...

राजस्थान: जंगल व वन्यजीव बचेंगे तभी पर्यावरण का संरक्षण होगा

वन्यजीव सप्ताह के तहत पर्यावरण संरक्षण की अलख भावी पीढ़ी में जगाने के लिए सरकारी स्कूलों में विविध कार्यक्रम आयोजित

दिल्ली: अशोक विजयदशमी के दिन 10 हजार लोगों ने ली बौद्ध दीक्षा, देश में लगभग 1 लाख लोगों ने बौद्ध धम्म किया ग्रहण

नई दिल्ली। डॉ. भीमराव आंबेडकर ने आखिरी दिनों में सभी धर्मों पर गहरा अध्ययन करने के बाद देश में फैली जाति व्यवस्था...

गुजरात मॉडल: 811 करोड़ की योजनाओं के बाद भी, पिछले 30 दिनों में लगभग 24000 बच्चे कुपोषित मिले!

गुजरात। राज्य सरकार द्वारा पोषण को नियंत्रित करने के लिए 811 करोड़ रुपये की योजनाओं की घोषणा के बाद भी गुजरात राज्य...