14.1 C
Delhi
Wednesday, November 30, 2022

मध्य प्रदेश में गर्भवती महिला को नौकरी का झांसा देकर, राजस्थान में अपहरण कर युवती का गैंगरेप, दलित समाज से आती हैं पीड़िताएं

अब्दुल माहिर/अंकित पचौरी

राजस्थान व मध्यप्रदेश से महिलाओं के साथ यौनिक हिंसा के दो जघन्य मामले सामने आए हैं। एमपी में महिला को नौकरी का झांसा देकर यौन शोषण किया गया। वहीं राजस्थान में एक युवती का अपहरण कर अलग-अलग जगहों पर ले जाकर बलात्कार किया गया। दोनों ही मामलों में पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
पहला मामला मध्यप्रदेश के इंदौर का है। यहां नौकरी का झांसा देकर एक गर्भवती दलित महिला के साथ गैंगरेप किया गया। पीडि़ता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी प्रिंस, अफजल, अरबाज, शाहिद उर्फ सैय्यद के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

इंस्टाग्राम पर हुई थी पहचान।

शहर के तुकोगंज थाने में दर्ज कराए गए केस में 19 साल की पीडि़ता ने बताया है कि उसकी पहचान इंस्टाग्राम के जरिए अरबाज से हुई। वह नौकरी की तलाश में थी। अरबाज से उसने इस बारे में बात की। इस पर आरोपी ने कहा कि उसके दोस्त अफजल और प्रिंस सैयद ये काम करते हैं और नौकरी लगवा देंगे। इस साल अगस्त में प्रिंस सैयद ने महिला को नौकरी के लिए मैसेज किया। फिर गत 14 सितंबर को महिला को शहर के रीगल स्क्वॉयर बुलाया। वहां महिला पहुंची तो कार में सैयद, अरबाज और अफजल थे। उन्होंने उसे समोसा और पानी दिया। समोसा खाते ही महिला बेहोश हो गई। ये सभी उसे विजयनगर के एक घर ले गए और उसके साथ रेप किया। पुलिस ने पीडि़ता की शिकायत पर चार युवकों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। इनके खिलाफ 376 और एट्रोसिटी सहित अन्य धाराओं में प्रकरण पंजीकृत किया गया है। साथ ही चारों आरोपियों की गिरफ्तारी भी की जा चुकी है।

राजस्थान की युवती को बनाया शिकार

राजस्थान के चूरू में अपहरण कर एक दलित युवती से गैंगरेप का मामला सामने आया है। आरोप है की मुख्य आरोपी अरबाज ने दो साथियों शहनवाज खत्री व फारूक खत्री के साथ मिलकर 22 वर्षीय युवती के साथ अलग जिलों में होटलों में ले जाकर सामूहिक बलात्कार किया। आरोपियों के चुंगल से निकल कर गत 20 सितंबर को पीडि़ता अपने घर पहुंची। मां को घटना की जानकारी दी। इसके बाद परिजनों के साथ महिला थाना चूरू पहुंच कर उक्त तीनों आरोपियों के खिलाफ सामूहिक बलात्कार की नामजद रिपोर्ट दी। रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। शेष दो आरोपियों की तलाश जारी है।

द मूकनायक को चूरू महिला थानाप्रभारी सुखराम चोटिया ने बताया कि गत 20 सितंबर को 22 वर्षीय पीडि़ता की रिपोर्ट के आधार पर अरबाज, शाहनवाज व फारुख के खिलाफ अपहरण सामूहिक बलात्कार करने व एससी/एसटी एक्ट के तहत महिला थाने में मामला दर्ज हुआ था। पीडि़ता ने रिपोर्ट में बताया कि अरबाज ने पहले पीडि़ता से दोस्ती की। इसके बाद शादी का झांसा देकर अपने प्रेमजाल में फंसाया। 19 सितंबर को आरोपी ने पीडि़ता का अपहरण कर लिया। वहीं अलग-अलग जगहों पर होटल में रखा। अपने साथी शहनवाज व फारुक को भी होटल में बुलाकर बलात्कार किया।

The Mooknayakhttps://themooknayak.in
The Mooknayak is dedicated to Marginalised and unprivileged people of India. It works on the principle of Dr. Ambedkar and Constitution.

Related Articles

मध्य प्रदेशः 10 हजार स्वास्थ्य केंद्र बनेंगे मॉडल, सर्व सुविधायुक्त होंगे अस्पताल

प्रथम चरण में 23 जिलों में 500 हेल्थ एंड वेलनेस एवं 23 शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को आदर्श...

अब कीटनाशक भी ऑनलाइन शॉपिंग मार्किट में, पढ़िए कृषि विशेषज्ञ व किसानों ने क्या दी राय

जयपुर। अब किसान फ्लिपकार्ट (flipkart) व ऐमाजॉन (amazon) ई-कॉमर्स साइट्स से भी कीटनाशक खरीद सकेंगे। केंद्र सरकार ने ऐसे ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफॉर्म्स...

दादी-पिता ने 6 माह की नवजात बच्ची को फेंका,पुलिस ने आरोपियों को किया गिरफ्तार

लखनऊ। यूपी के पीलीभीत में गत 18 नवंबर को झाड़ियों में नवजात शिशु पड़ा हुआ मिला था। इस मामले में पुलिस ने...
- Advertisement -

Latest Articles

मध्य प्रदेशः 10 हजार स्वास्थ्य केंद्र बनेंगे मॉडल, सर्व सुविधायुक्त होंगे अस्पताल

प्रथम चरण में 23 जिलों में 500 हेल्थ एंड वेलनेस एवं 23 शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को आदर्श...

अब कीटनाशक भी ऑनलाइन शॉपिंग मार्किट में, पढ़िए कृषि विशेषज्ञ व किसानों ने क्या दी राय

जयपुर। अब किसान फ्लिपकार्ट (flipkart) व ऐमाजॉन (amazon) ई-कॉमर्स साइट्स से भी कीटनाशक खरीद सकेंगे। केंद्र सरकार ने ऐसे ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफॉर्म्स...

दादी-पिता ने 6 माह की नवजात बच्ची को फेंका,पुलिस ने आरोपियों को किया गिरफ्तार

लखनऊ। यूपी के पीलीभीत में गत 18 नवंबर को झाड़ियों में नवजात शिशु पड़ा हुआ मिला था। इस मामले में पुलिस ने...

मध्य प्रदेश: वन संरक्षण के लिए आदिवासी युवाओं को रोजगार से जोड़ रहा वन विभाग

वन उपज को एकत्र कर जीवनयापन करने वाले आदिवासी युवकों के लिए विभाग ने शुरू किया कौशल विकास कार्यक्रम।

खबर का असरः सरकारी स्कूलों में बच्चों को मिलने लगा दूध

जयपुर। राजस्थान के सरकारी विद्यालयों व मदरसों में अध्ययनरत कक्षा 1 से 8वीं तक के बच्चों को अब प्रत्येक मंगलवार व शुक्रवार...