26.1 C
Delhi
Monday, August 8, 2022

मध्य प्रदेश: नाबालिग लड़की को चप्पल-जूते की माला पहनाकर गांव में घुमाया, 8 लोगों खिलाफ मामला दर्ज

भोपाल। छिंदवाड़ा के मोहखेड़ थाना क्षेत्र के ग्राम अम्बाझिरी में एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है। यहां आदिवासी गांव की सामाजिक पंचायत के पंचों ने नाबालिग लड़की को जूते-चप्पल की माला पहनाकर गांव में घुमाने का फरमान जारी किया है। मामला छिंदवाड़ा के आदिवासी इलाके के मोहखेड़ थाना अंतर्गत उमरानाला पुलिस चौकी के ग्राम अम्बाझिरी का है। नाबालिग लड़की ने थाने में पंचों के फैसले के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। जिसके बाद पुलिस ने 8 पंचों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया है।

यह है पूरा मामला?

अम्बाझिरी निवासी नाबालिग लड़की कुछ दिनों पहले गांव से लापता हो गई थी। जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट युवती की दादी ने थाने में दर्ज कराई थी। लेकिन लड़की कुछ दिनों बाद वापस आ गई और थाने में बताया कि वह बगैर बताए ईंट भट्ठा में मजदूरी करने के लिए नागपुर चली गई थी। उस वक्त लड़की का रिश्ते में लगने वाला मुंहबोले मामा टिंकू भी गांव से मजदूरी करने बाहर गया था। वापस लौटने पर टिंकू की पत्नी ने गांव में ही सामाजिक पंचायत बुलाई, और पंचायत ने लड़की को चप्पल-जूते की माला पहनाकर गांव में घुमा दिया।

पंचायत के पंच सद्दू आहाके ने फरमान जारी कहते हुए कहा कि, युवक एवं नाबालिग को चप्पल जूते की माला पहनाकर गांव में घुमाकर अपमानित किया जाए और नहीं मानने पर इन्हें यहीं जान से मार दिया जाए। जिसकी सहमति अन्य पंचों ने भी दी थी। कुछ पंचों पर दोनों के साथ मारपीट करने का भी आरोप है। इसके साथ ही जूते चप्पल की माला पहनाकर आसपास के गांव में घुमाने के निर्देश दिए। पंचायत के इस असंवैधानिक फैसले का विरोध में लड़की के परिजन और गांव के कोटेदार ने किया। लेकिन पीड़ितों की पंचायत ने नही सुनी।

द मूकनायक से बात करते हुए मोहखेड़ थाने के टीआई गोपाल घोसले ने बताया कि, लड़की की उम्र लगभग 17 वर्ष की है। लड़की के माता-पिता मूकबधिर है। इस कारण से परिवार की आजीविका चलाने की जिम्मेदारी भी उसी पर ही है। लड़की पिछले कई सालों से मजदूरी करके घर चलाती है। उसकी दादी ने पिछले महीने लड़की की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। लड़की ने पुलिस को बताया कि, जब वह मजदूरी करके नागपुर से गांव बापस लौटी तब गांव के लोगों ने पंचायत लगा दी। जिसमें उसे जूते चप्पल की माला पहना कर गांव में घुमाने का फरमान सुना दिया गया। जिसके बाद लड़की ने पुलिस में पांचों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।

8 आरोपियों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज

पुलिस के मुताबिक, मामले में 8 आरोपियों पर मामला दर्ज किया गया है। जिसमें गांव के मोतीलाल कुर्वेती, दमुभाई इवनाती, सद्दू आहाके, विपत धुर्वे, जागेश्वर कुमरे, सलिराम कुमरे, यशवंत आहाके, लालसिंह धुर्वे पर आपराधिक मामला दर्ज किया गया है।

Ankit Pachauri
Journalist, The Mooknayak

Related Articles

मध्यप्रदेशः पंच-सरपंच महिलाओं के अधिकार पर पति-रिश्तेदारों का ‘डाका’, कैसे सशक्त होंगी महिलाएं!

सरपंच निर्वाचित महिला के पति ने ली शपथ, दलित सरपंच ने सामान्य वर्ग के युवक को बनाया सरपंच प्रतिनिधि.

राजस्थान: 30 घंटे पेड़ से लटका रहा दलित संत का शव, भाजपा विधायक सहित 3 पर केस दर्ज

साधु ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में भाजपा विधायक पर लगाए गंभीर आरोप जालोर। राजस्थान के जालौर जिले में...

राजस्थानः अल्प मानदेय में मदरसों के पैरा टीचर्स कर रहे काम, कैसे हो परिवार का पालन-पोषण!

रिपोर्ट- अब्दुल माहिर बोर्ड से पंजीकृत मदरसों के पैरा टीचर्स बेहाल, शिक्षक कर रहे आर्थिक तंगी का सामना।
- Advertisement -

Latest Articles

मध्यप्रदेशः पंच-सरपंच महिलाओं के अधिकार पर पति-रिश्तेदारों का ‘डाका’, कैसे सशक्त होंगी महिलाएं!

सरपंच निर्वाचित महिला के पति ने ली शपथ, दलित सरपंच ने सामान्य वर्ग के युवक को बनाया सरपंच प्रतिनिधि.

राजस्थान: 30 घंटे पेड़ से लटका रहा दलित संत का शव, भाजपा विधायक सहित 3 पर केस दर्ज

साधु ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में भाजपा विधायक पर लगाए गंभीर आरोप जालोर। राजस्थान के जालौर जिले में...

राजस्थानः अल्प मानदेय में मदरसों के पैरा टीचर्स कर रहे काम, कैसे हो परिवार का पालन-पोषण!

रिपोर्ट- अब्दुल माहिर बोर्ड से पंजीकृत मदरसों के पैरा टीचर्स बेहाल, शिक्षक कर रहे आर्थिक तंगी का सामना।

मध्यप्रदेशः सागर की ‘बसंती’ पर मानव तस्करी का आरोप, नाबालिग से करवाती थी अवैध धंधा!

भोपाल। मध्य प्रदेश के सागर जिले में महिला द्वारा मानव तस्करी का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने दो गुमशुदा बच्चियां...

उत्तर प्रदेशः दरोगा ने दो दलित भाइयों को चौकी में बंद कर रात भर पीटा, जुर्म कबूल करने का बनाया दबाव!

मंझनपुर क्षेत्र से नाबालिग लड़की गायब हुई थी, पुलिस ने पूछताछ के लिए थाने बुलाया था। लखनऊ। यूपी...