23.1 C
Delhi
Friday, October 7, 2022

राजस्थानः स्कूल में घुस कर आदिवासी शिक्षक से अभद्रता, जान से मारने की धमकी, पुलिस नहीं दर्ज कर रही मामला

प्रधानाचार्य ने आरोपियों के खिलाफ थाने में दी शिकायत

जयपुर। राजस्थान के सवाईमाधोपुर जिले के ग्रामीण इलाके के एक सरकारी स्कूल में शिक्षक पर छात्राओं से छेड़छाड़ के आरोपांे का विवाद अभी सुलझा भी नहीं था कि इसी विद्यालय में अब एक और नया विवाद खड़ा हो गया है। विद्यालय में अनाधिकृत तरीके से प्रवेश कर अब एक अन्य आदिवासी शिक्षक के साथ अभद्रता कर जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है। घटना 24 अगस्त 2022 सुबह साढ़े 10 बजे की बताई गई है। घटना को लेकर शिक्षकों में रोष है।

पुलिस ने नहीं दर्ज किया मामला

विद्यालय के प्रधानाचार्य ने सम्बन्धित पुलिस थाने में शिकायत दी है, लेकिन पुलिस ने घटना के तीसरे दिन भी मामला दर्ज नहीं किया। प्रधानाचार्य ने शिकायत में बताया कि 24 अगस्त 2022 को समीप के गांव का एक व्यक्ति सुबह साढ़े 10 बजे मध्यांतर में स्कूल में घुस गया। एक आदिवासी व्याख्याता के साथ अभद्रता करते हुए जान से मारने की धमकी दी है। राज कार्य मे बाधा पहुंचाई। इससे शैक्षणिक माहौल भी दूषित हुआ है। इधर, स्कूल के ही एक अन्य शिक्षक पर छात्राओं के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए की गई मारपीट मामले में सम्बन्धित स्कूल के प्रधानाचार्य ने भी ग्रामीणों के खिलाफ थाने में रिपोर्ट दे दी है।

दहशत में स्टाफ, लगातार मिल रही धमकियां

सूत्रों के अनुसार विवादों में चल रहे स्कूल स्टाफ को लगातार धमिकयां मिल रही हैं। इससे यहां कार्यरत ज्यादातर शिक्षक दहशत में है। डर का आलम यह है कोई भी शिक्षक इस मामले में खुल कर बात करने से कतरा रहा है। असामाजिक तत्वों द्वारा धमकी देने को लेकर उच्च अधिकारियों को बताया गया है, लेकिन उच्चाधिकारी भी मामले में पल्ला झाड़ते नजर आ रहे है।

अच्छा बोर्ड परिणाम, फिर भी मिली बदनामी

सूत्रों के अनुसार छेड़छाड़ का आरोपी शिक्षक बीते सात वर्षों से इसी स्कूल में कार्यरत था। कभी भी कोई शिकायत नहीं थी। बीते वर्षों में विज्ञान विषय में अच्छा परिणाम दिया। विज्ञान विषय में नवाचार के चलते स्कूल को पुरुस्कार भी मिलने की बात सामने आई है। विद्यालय में लगातार नामांकन बढ़ाने में भी विशेष योगदान रहा है। शिक्षक नेताओ ने सरकारी स्कूल में लगातार बढ़ते नामांकन की बदौलत भी किसी के द्वारा साजिश रचने के आरोप लगाए हैं। उधर, शुक्रवार को गांव वालों की तरफ से भी प्रदर्शन की बात निकल कर सामने आई है। ग्रामीणों के खिलाफ दर्ज मुकदमें को वापस लेने की मांग की गई है।

Abdul Mahir
अब्दुल माहिर 2003 से लगातार राजस्थान पत्रिका में बतौर रिपोर्टर के रूप में काम कर चुके हैं। इसके अलावा पत्रिका टीवी में भी कार्य कर चुके हैं। मौजूदा समय में अब्दुल माहिर राजस्थान से द मूकनायक के लिए रिपोर्ट कर रहे हैं।

Related Articles

हरियाणा: फरीदाबाद स्थित निजी हॉस्पिटल के वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट में उतरे 4 दलित सफाईकर्मियों की जहरीली गैस से मौत

सेक्टर-16 स्थित क्यूआरजी हॉस्पिटल में हुआ यह दर्दनाक हादसा। नई दिल्ली। हरियाणा के फरीदाबाद के सेक्टर-16 स्थित क्यूआरजी...

खबर का असरः पत्नी की गोली मारकर हत्या का आरोपी युवक गिरफ्तार

बेटी के हत्यारे की दो महीने बाद गिरफ्तारी होने पर छलक पड़े पिता के आंसू, जाग उठी न्याय...

राजस्थान: जंगल व वन्यजीव बचेंगे तभी पर्यावरण का संरक्षण होगा

वन्यजीव सप्ताह के तहत पर्यावरण संरक्षण की अलख भावी पीढ़ी में जगाने के लिए सरकारी स्कूलों में विविध कार्यक्रम आयोजित
- Advertisement -

Latest Articles

हरियाणा: फरीदाबाद स्थित निजी हॉस्पिटल के वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट में उतरे 4 दलित सफाईकर्मियों की जहरीली गैस से मौत

सेक्टर-16 स्थित क्यूआरजी हॉस्पिटल में हुआ यह दर्दनाक हादसा। नई दिल्ली। हरियाणा के फरीदाबाद के सेक्टर-16 स्थित क्यूआरजी...

खबर का असरः पत्नी की गोली मारकर हत्या का आरोपी युवक गिरफ्तार

बेटी के हत्यारे की दो महीने बाद गिरफ्तारी होने पर छलक पड़े पिता के आंसू, जाग उठी न्याय...

राजस्थान: जंगल व वन्यजीव बचेंगे तभी पर्यावरण का संरक्षण होगा

वन्यजीव सप्ताह के तहत पर्यावरण संरक्षण की अलख भावी पीढ़ी में जगाने के लिए सरकारी स्कूलों में विविध कार्यक्रम आयोजित

दिल्ली: अशोक विजयदशमी के दिन 10 हजार लोगों ने ली बौद्ध दीक्षा, देश में लगभग 1 लाख लोगों ने बौद्ध धम्म किया ग्रहण

नई दिल्ली। डॉ. भीमराव आंबेडकर ने आखिरी दिनों में सभी धर्मों पर गहरा अध्ययन करने के बाद देश में फैली जाति व्यवस्था...

गुजरात मॉडल: 811 करोड़ की योजनाओं के बाद भी, पिछले 30 दिनों में लगभग 24000 बच्चे कुपोषित मिले!

गुजरात। राज्य सरकार द्वारा पोषण को नियंत्रित करने के लिए 811 करोड़ रुपये की योजनाओं की घोषणा के बाद भी गुजरात राज्य...