26.1 C
Delhi
Monday, August 8, 2022

हैदराबाद नागराजू मामला: ‘जान बचाने के लिए छोड़ा था शहर, लेकिन वापसी के बाद भीड़ के बीच भी ना बच पाए नागराजू’

हैदराबाद। “एक भीड़भाड वाली सड़क पर उन लोगों ने मेरे पति को रॉड और चाकू से मार-मारकर मौत के घाट उतार दिया। कोई भी उसे बचा नहीं सका।” यह कहना है हैदराबाद की अशरिन सुल्ताना का। जिसने चार महीने पहले ही दिल्लीपुरम के नागराजू के साथ शादी की थी। लेकिन यह शादी अशरिन सुल्ताना के परिवार को बिल्कुल नामंजूर थी। जिसका नतीजा यह हुआ कि अशरिन के भाई सैय्यद मोबीन अहमद और एक रिश्तेदार मसूद अहमद ने सरेआम नागराजू की हत्या कर दी।

सोशल मीडिया में वायरल होती वीडियो में सबने देखा कि अशरिन अपने पति को बचाने के लिए गिड़गिड़ाती है। लेकिन उसका भाई और रिश्तेदार उसे वहां से हटाकर नागराजू को इतना मारते हैं कि उसकी मौत हो जाती है। यहां तक की सड़क के सामने खड़े लोग बचाने कोशिश भी करते हैं लेकिन बचा नहीं पाते। यह पूरी घटना बुधवार रात करीब नौ बजे हैदराबाद के सरुरनगर में घटी। यह घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। अब अशरिन के साथ-साथ नागराजू के माता-पिता भी न्याय की गुहार लगा रहे हैं।

आपको बता दें कि, अशरिन सुल्ताना मुस्लिम परिवार से ताल्लुक रखती है जबकि नागराजू दलित था। नागराजू के माता-पिता विकाराबाद में कुल्ली का काम करते हैं। नागराजू की एक बहन भी है। नागराजू स्वयं मारुति के शो में काम करता था। वहीं दूसरी तरफ अशरिन के पिता की मृत्यु हो चुकी है और वह अपने भाई और मां के साथ रहती थी।

स्कूल में हुई थी दोस्ती

अशरिन और नागराजू एक दूसरे को स्कूल के दिनों से जानते थे। स्कूल के बाद इन दोनों की दोस्ती कॉलेज में जारी रही। वहीं दोनों के बीच प्यार हुआ और बात शादी तक आ गई। लेकिन, अशरिन को इस बात का डर पहले से ही था कि अगर वह नागराजू से शादी करेगी तो उसके भाई उसे मार देगें। इसलिए पहले उसने शादी के लिए मना कर दिया। स्थिति यह थी कि दोनों ने एक दूसरे से बात करना बंद कर दिया। लेकिन इसी साल (2022) जनवरी में अशरिन की एक बार फिर नागराजू से बातचीत शुरू हुई और दोनों ने शादी करने का फैसला किया, और बाद में शादी भी की।

अब तक अशरिन के भाई सैय्यद मोबीन को इन दोनों के रिश्ते के बारे में भनक लग गई थी, और वह नहीं चाहता था कि अशरिन नागराजू से शादी करें। भाई सैय्यद मोबीन ने अशरिन को धमकी भी दी थी, लेकिन वह नहीं मानी। अशरिन ने शादी करने से पहले अपना फोन घर पर ही छोड़ दिया, ताकि कोई उसे खोज न पाएं और आर्यसमाज में जाकर शादी कर ली।

बीबीसी की खबर के अनुसार, अशरिन के घर से चले जाने के बाद उसके घरवालों ने लापता होने की शिकायत दर्ज करवाई। हैदराबाद के बालनगर पुलिस थाने में दोनों को बुलाया गया तो सामने आया कि दोनों बलिग हैं। इसके बाद दोनों परिवार वालों को पुलिस ने समझा-बुझाकर घर भेज दिया।

नागराजू की मां कहती है कि, “दोनों परिवार पुलिस स्टेशन गए थे। मैंने वहां अशरिन की मां को यह आश्वान दिलाया की मेरी भी एक बेटी है, और मैं आपकी बेटी को भी उसी तरह रखूंगी। हम दोनों परिवार वालों की फोटो भी खींची गई। इतना सब होने के बाद भी अशरिन के मन में कहीं न कहीं अपने भाई के लेकर डर था। इसलिए शादी के बाद विशाखापट्टनम चले गए, ताकि वह सुरक्षित जीवन जी सकें। कुछ दिन पहले दोनों हैदराबाद वापस आएं थे और बुधवार को यह घटना हो गई।”

पहले कोशिश में चूक गए दूसरी जगह दिया घटना को अंजाम

नागराजू के घरवालों का कहना है कि, दोनों किसी रिश्तेदार के घर के लिए रवाना हुए थे। इसी दौरान मोबीन और मसूद अहमद उनका पीछा करते रहे थे। पहले दोनों ने मलकपेट सड़क पर हमला करने का प्लॉन किया लेकिन उस सड़क पर भीड़ होने के कारण वह सफल नहीं हो पाए। उसके बाद सरुरनगर में नागराजू को गाड़ी से गिराकर उस पर वार करने लगे। इस दौरान अशरिन लगातार राजू को छोड़ने के गुजारिश करती रही। लेकिन उसके भाई ने उसकी एक नहीं सुनी। यहां तक कि जब वह खुद राजू को बचाने गई तो उसे भी वहां से हटाकर लगातार उस पर वार किया गया, जब तक वह पूरी तरह से लहूलुहान नहीं हो गया।

दो आरोपी गिरफ्तार

इस घटना के बाद पुलिस उपायुक्त सनप्रीत सिंह ने मीडिया को बताया कि, सैय्यद मोबीन और उसके रिश्तेदार को गिरफ्तार कर लिया गया है। उनपर धारा 302(मर्डर) और एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। साथ ही बताया कि इस केस को फार्स्ट ट्रैक कोर्ट ले जाया जाएगा।

Poonam Masih
Poonam Masih, Journalist The Mooknayak

Related Articles

मध्यप्रदेशः पंच-सरपंच महिलाओं के अधिकार पर पति-रिश्तेदारों का ‘डाका’, कैसे सशक्त होंगी महिलाएं!

सरपंच निर्वाचित महिला के पति ने ली शपथ, दलित सरपंच ने सामान्य वर्ग के युवक को बनाया सरपंच प्रतिनिधि.

राजस्थान: 30 घंटे पेड़ से लटका रहा दलित संत का शव, भाजपा विधायक सहित 3 पर केस दर्ज

साधु ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में भाजपा विधायक पर लगाए गंभीर आरोप जालोर। राजस्थान के जालौर जिले में...

राजस्थानः अल्प मानदेय में मदरसों के पैरा टीचर्स कर रहे काम, कैसे हो परिवार का पालन-पोषण!

रिपोर्ट- अब्दुल माहिर बोर्ड से पंजीकृत मदरसों के पैरा टीचर्स बेहाल, शिक्षक कर रहे आर्थिक तंगी का सामना।
- Advertisement -

Latest Articles

मध्यप्रदेशः पंच-सरपंच महिलाओं के अधिकार पर पति-रिश्तेदारों का ‘डाका’, कैसे सशक्त होंगी महिलाएं!

सरपंच निर्वाचित महिला के पति ने ली शपथ, दलित सरपंच ने सामान्य वर्ग के युवक को बनाया सरपंच प्रतिनिधि.

राजस्थान: 30 घंटे पेड़ से लटका रहा दलित संत का शव, भाजपा विधायक सहित 3 पर केस दर्ज

साधु ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में भाजपा विधायक पर लगाए गंभीर आरोप जालोर। राजस्थान के जालौर जिले में...

राजस्थानः अल्प मानदेय में मदरसों के पैरा टीचर्स कर रहे काम, कैसे हो परिवार का पालन-पोषण!

रिपोर्ट- अब्दुल माहिर बोर्ड से पंजीकृत मदरसों के पैरा टीचर्स बेहाल, शिक्षक कर रहे आर्थिक तंगी का सामना।

मध्यप्रदेशः सागर की ‘बसंती’ पर मानव तस्करी का आरोप, नाबालिग से करवाती थी अवैध धंधा!

भोपाल। मध्य प्रदेश के सागर जिले में महिला द्वारा मानव तस्करी का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने दो गुमशुदा बच्चियां...

उत्तर प्रदेशः दरोगा ने दो दलित भाइयों को चौकी में बंद कर रात भर पीटा, जुर्म कबूल करने का बनाया दबाव!

मंझनपुर क्षेत्र से नाबालिग लड़की गायब हुई थी, पुलिस ने पूछताछ के लिए थाने बुलाया था। लखनऊ। यूपी...